Friday, January 23, 2009

विष्णु राजगढ़िया जी नई दुनिया के झारखंड प्रभारी बने

झारखंड की पत्रकारिता के लिए एक अच्छी खबर है। विष्णु राजगढ़िया जी का पिछले छह-सात महीनों से चाइल्ड इन नीड इंस्टीट्यूट के साथ जुड़कर समाज में बच्चों के स्तर को ऊपर उठाने का प्रयास कर रहे थे। सिनी में भी उन्होंने पत्रकारिता को ही आधार बना रखा था। विष्णु जी नई दुनिया के झारखंड इनचार्ज बनाये गये हैं। उनके नेतृत्व में टीम का गठन भी हो रहा है और बहुत तेज़ी से रांची में दफ्तर के लिए इंतजाम भी शुरू हो चुका है। विष्णु राजगढ़िया जी झारखंड से नई दुनिया का फिलहाल साप्ताहिक अखबार निकालेंगे। यह अखबार 16 पन्ने का होगा, जिसके साथ एक 48 पन्ने की मैग्जीन भी पाठकों को उपलब्ध करायी जायेगी। झारखंड से पहला अंक संभवतः पहली फरवरी 2009 (रविवार) को प्रकाशित होने की संभावना है।विष्णु जी ने इस बात की तसदीक कर दी है और कहा है कि वे अभी अपनी टीम के गठन में व्यस्त हैं। उनके मोबाइल नम्बर 9431120500 पर कॉल कर उन्हें बधाई दी जा सकती है। मालूम हो कि विषणु जी इससे पहले प्रभात खबर में थे। न्यूट्रल पब्लिशिंग हाउस में काम करते हुए उन्होंने कई पदों का सफलतापूर्वक निर्वहन किया। सबसे लम्बी पारी उन्होंने प्रभात खबर इंस्टीट्यूट आफ मीडिया स्टडीज़ में निदेशक के तौर पर अदा की। इसके अलावा वे रांची सहित पूरे देश में मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित अरविंद केजरीवाल के साथ मिलकर सूचना के अधिकार के लिए काम करते रहे। श्री केजरीवाल के साथ मिलकर उन्होंने एक किताब भी लिखी - सूचना का अधिकार, जिसे देश भर में हाथों-हाथ लिया गया। विष्णु जी एक हंसमुख, बहुमुखी प्रतिभावन और मेहनतकश पत्रकार हैं। इन्होंने संपादक की कुर्सी में रहते हुए भी कभी लिखना-पढ़ना नहीं छोड़ा और कई मौकों पर तो संपादक रहते हुए रिपोर्टिंग भी की। धनबाद में विष्णु जी अकसर ऐसा करते थे। रांचीहल्ला की पूरी टीम की ओर से उन्हें लख-लख बधाइयां। हम उनकी तरक्की की कामना करते हैं।

9 comments:

RAVI PRAKASH said...

BADHAI.

संगीता पुरी said...

विष्णु राजगढ़िया जी को बहुत बहुत बधाई....आपके माध्‍यम से कई बार उनको जानने का मौका मिला ।

अखिलेश सिंह said...

बिष्णु राज्घधिया को बहुत बहुत बधाई, नई दुनिया की नई पारी मुबारक हो....

राजीव करूणानिधि said...

विष्णु जी को हार्दिक बधाई. पत्रकारिता जगत में झारखण्ड नित नई तरक्की कर रहा है, विष्णु जी जैसे महान शख्स इस राज्य के अगुआ बन रहे है. ये वाकई फक्र की बात है.

विनय said...

विष्णु जी को सहृदय बधाई!

आपकी टिप्पणी पाकर मुझे बहुत हर्ष हुआ साहब!

---आपका हार्दिक स्वागत है
गुलाबी कोंपलें

sunil choudhary said...

बिष्णु भइया को बधाई.

anand anal said...

badhai

bhoothnath(नहीं भाई राजीव थेपडा) said...

फोन पर तो दे ही चुका था....आज यहाँ भी बधाई दिए दे रहा हूँ.........बधाई हो सर जी बधाई....!!

समीर सृज़न said...

विष्णु सर को बहुत बहुत बधाई..मैं बाहर था इसलिए इस खबर पर ध्यान नहीं गया..ये वाकई बहुत अच्छी खबर है..और मेरे लिए दोहरी ख़ुशी की बात..एक तो वो रांची से बिलोंग करते हैं दूसरे वो माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय, भोपाल में मेरे सुपर डुपर सीनियर रह चुके है.. नदीम जी अब समय आ गया है की हम आप जैसे पत्रकार उनकी इस नई पारी मे सहयोग दे और रांची में इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट जर्नालिस्म को एक नयी मुकाम तक पहुचने की मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित करे..